Mandsaur Rape Case मध्य प्रदेश के मंदसौर में बच्ची से निर्भया जैसी दरिंदगी पर उबाल

Mandsaur Rape Case मंदसौर : मध्य प्रदेश के मंदसौर में 7 साल की बच्ची के साथ निर्भया मामले जैसी हैवानियत सामने आने के बाद जिले में प्रदर्शन जारी है। गुरुवार को लोगों ने विरोध में दुकानें बंद रखीं। मुस्लिम समुदाय के नेताओं ने गुरुवार को आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग की। साथ ही उन्होंने यह भी घोषणा की कि आरोपी के शव को जिले के कब्रिस्तान में जगह नहीं दी जाएगी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपी को गिरफ्तार कर उसे पांच दिन के लिए रिमांड पर भेजा है।

7 साल की बच्ची के साथ मंगलवार को स्कूल से किडनैप करके बलात्कार किया गया। इसके बाद आरोपी ने बच्ची पर बर्बरता से हमले किए। उसके प्राइवेट पार्ट्स को नुकसान पहुंचाया। साथ ही गला रेतकर हत्या की कोशिश की। बच्ची मंगलवार को स्कूल से गायब हुई थी।

बच्ची की हालत देख डॉक्टर भी कांप गए-Mandsaur Rape Case

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बच्ची के साथ इस हद तक हैवानियत की गई है कि डॉक्टर भी कांप गए हैं। डॉक्टर्स ने बताया कि अस्पताल में भर्ती पीड़िता जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही है। डॉक्टरों ने बताया कि गुरुवार को उसके शरीर ने कई सर्जरी को झेला है। उस पर धारदार हथियार के कई वार किए गए जिससे उसके शरीर में गहरे घाव हैं।

एक स्कूल की बच्चियों ने काले बैंड से हाथ बांधकर किया विरोधबच्ची के गले में भी 3 सेंटीमीटर का घाव है। रेप के कारण बच्ची के अंदरूनी पार्ट्स पूरी तरह से डैमेज हो चुके हैं। उसके चेहरे और नाक पर भी जगह-जगह दांत से काटने के निशान हैं। मीडिया रिपोर्ट्स में यह भी बताया गया है कि बच्ची के साथ इस हद तक बर्बरता की गई कि उसका मलाशय तक फट गया है। प्राइवेट पार्ट्स में नुकीले हथियार से वार किया गया।

READ  कसौली गोलीकांड में घायल PWD के कर्मचारी ने किया चौंकाने वाला खुलासा

मुस्लिम समुदाय ने आरोपी का किया बहिष्कार-Mandsaur Rape Case

घटना के विरोध में कई मुस्लिम समुदाय गुरुवार को सड़कों पर दिखे। वक्फ अंजुमन इस्लाम कमिटी सदर मोहम्मद यूनुस शेख ने मंदसौर एसपी मनोज सिंह के समक्ष ज्ञापन सौंपने के लिए शिष्टमंडल का नेतृत्व किया। उन्होंने कहा, ‘समुदाय में इस तरह के जघन्य अपराधी के लिए कोई जगह नहीं है।’ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने मामले की फास्ट ट्रैक सुनवाई और दोषी के लिए मृत्युदंड की मांग की है। युनूस शेख ने आगे कहा, ‘इस तरह का निर्मम अपराध माफी के लायक नहीं है। हमने निर्णय लिया है कि हम अपराधी के शरीर को जिले के किसी भी कब्रिस्तान में दफन नहीं होने देंगे।’

वकीलों का केस लड़ने से इनकार-Mandsaur Rape Case

मंदसौर के वकीलों ने घोषणा की है कि वह आरोपी इरफान का केस नहीं लड़ेंगे। मंदसौर बार असोसिएशन ने इरफान का बहिष्कार करने का फैसला किया है और कहा कि 100 वकीलों का दल पीड़िता के पक्ष में पेश होगा। तमाम स्कूली बच्चियों ने भी बस स्टैंड पर बैठकर प्रदर्शन किया। मंदसौर से 31 किमी दूर सीतामऊ पब्लिक स्कूल की बच्चियों ने स्कूल यूनिफॉर्म में अपने हाथों को काले रिबन बांधकर प्रदर्शन किया।

मुख्यमंत्री ने दिए जांच के आदेश-Mandsaur Rape Case

दूसरी ओर मंदसौर के विधायक यशपाल सिंह सिसौदिया ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पुलिस और प्रशासन को घटना की पूरी जांच और ट्रायल के आदेश दिए हैं। शिवराज ने बताया कि पीड़िता की हालत में सुधार हो रहा है। उन्होंने कहां, कोर्ट में केस की जल्द सुनवाई होनी चाहिए और अपराधी को इतने निर्मम अपराध के लिए मरने तक फांसी पर लटकाया जाना चाहिए।

READ  जिस वजह से गई श्रीदेवी की जान, उसमें बचने के होते हैं बहुत कम चांसेस

बता दें कि पुलिस ने मामले में इरफान उर्फ भय्यू की गिरफ्तार किया है। से पांच दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भी भेजा गया। एसपी ने बताया, ‘हमने आरोपी से पूछताछ की है लेकिन इस समय उसका खुलासा नहीं किया जा सकता है।’

अब सरेआम रेप होंगे और लोग कहेंगे की मैंने वीडियो बना ली है बाद में पीड़ित मदद करूँगा

गैंगरेप के एंगल की जांच कर रही पुलिस

पुलिस को मामले में इरफान के अलावा किसी अन्य आरोपी के शामिल होने से भी इनकार नहीं कर रही है। एसपी मनोज सिंह ने बताया, ‘हम गैंगरेप के एंगल से घटना की जांच कर रहे हैं। अभी बच्ची कोई बयान देने की स्थिति में नहीं है।’

घाव भरने में लगेगा वक्त

फिलहाल बच्ची बस कुछ देर के लिए आंख खोलती है और फिर बंद कर लेती है। डॉक्टरों का कहना है कि घाव बेहद गंभीर हैं जिन्हें भरने में वक्त लगेगा। बच्ची को एक यूनिट खून भी चढ़ाया गया है। साथ ही प्राइवेट पार्ट्स को संक्रमण से बचाने के लिए डॉक्टर कोशिशों में जुटे हैं। ठोस आहार नहीं दिया जा रहा है। उसके शरीर में कई घाव हैं।

मुस्लिम समुदाय के लोगों ने की फांसी की मांग

स्कूल से गायब हुई थी बच्ची

पुलिस ने बताया कि बच्ची कक्षा दो में पढ़ती है। वह मंगलवार को स्कूल गई थी। शाम को उसके दादा उसे लेने पहुंचे तो पता चला कि बच्ची पंद्रह मिनट पहले ही स्कूल से निकल चुकी शाम को घरवालों ने पुलिस की सूचना दी।

खून से लथपथ मिला था शरीर-Mandsaur Rape Case

बुधवार को सुबह लगभग दस बजे पुलिस को लक्ष्मण गेट के पास खून से लथपथ एक बच्ची के पड़े होने की सूचना मिली। पुलिस ने बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया। लापता बच्ची के घरवालों ने बच्ची की पहचान की। पुलिस स्कूल में सीसीटीवी फुटेज चेक करने पहुंची तो पता चला कि वहां के सीसीटीवी का तार चूहों ने काट दिया था इसलिए वह काम नहीं कर रहा था।

READ  चारा घोटाला: RJD अध्यक्ष लालू प्रसाद को साढ़े तीन साल की सजा और 5 लाख का जुर्माना
सड़कों पर लोगों का हुजूम

स्कूल से ले गया था एक व्यक्ति

पुलिस ने इलाके के सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो उसमें दिखा कि मंगलवार की शाम को लगभग पौने छह बजे एक शख्स बच्ची को साथ लेकर जा रहा है। पुलिस का आशंका है कि मंगलवार को इरफान ने बच्ची को टॉपी और स्नैक्स का लालच देकर किसी सूनसान इलाके में ले गया होगा।