यहाँ शिवलिंग पर चढ़ावे में चढ़ते हैं झाड़ू, मिटते हैं चर्म रोग

[ads4]
आपने भगवान शिव के मंदिर में ढूध जल पान बिलपत्र चढ़ते हुए देखा होगा ! लेकिन एक ऐसी जगह जहाँ भगबान शिव के मंदिर में झाड़ू चढ़ाया जाता है ! ऐसा यूपी के मुरादाबाद जिले में बिहाजोई गांव में प्रचीन शिव मंदिर पातालेश्वर स्थित है,  इस मिन्दर के प्रति भक्तो की एक अनोखी श्रद्धा है !
यहां भगवान शिव की दूध जल और फल के साथ साथ नारियल के सींको वाली झाड़ू शिव लिंग पर चढाई जाती है ! यहां ऐसा मानते है की भगवान शिव पर झाड़ू चढ़ाने से मनोकामना पूरी हो जाती है ! भक्तो का ऐसा मानना है की झाड़ू चढ़ाने से भगवान शिव प्रसन्न होते है और ऐसा करने से त्वचा सम्बंधित रोगों से छुटकारा मिलता है ! इस मिन्दर के पुजारी का कहना है की ये मंदिर 150  साल पुराना है और इस मंदिर में झाड़ू चढ़ाने प्रथा भी बहुत पुरानी है !
इस मंदिर में भगवान शिव को झाड़ू चढ़ाने के लिया लोग घंटो लाइन में लगे रहते है ! इस मंदिर के दर्शन करने के लिए सैकड़ो लोग आते है, इस मंदिर में भगवान शिव की कोई मूर्ति नही है ! इस मंदिर में भगवान शिव का शिव लिंग है !
इस मंदिर में झाड़ू चढ़ाने के पीछे एक कथा जुडी हुई है !
इस कथा के अनुसार इस गांव में भिखारीदास नाम का एक बनिया रहता था, वो बहुत पैसे वाला था लेकिन उसे त्वचा सम्बन्धी एक बड़ा रोग था वो इस रोग का इलाज करवाने के लिए जा रहा था की अचानक से उसे प्यास लगी  वह भगवान शिव के इस मंदिर में पानी पीने आया और तभी वहाँ झाड़ू मार रहे पुजारी से टकराया जिसके बाद बिना इलाज के ही उसका रोग ठीक हो गया,  खुश होकर सेठ ने पुजारी को अशरफ़िया देनी चाही लेकिन पुजारी ने उसे लेने से इंकार कर दिया इसके बदले में उसने सेठ से यहाँ मंदिर बनवाने की प्रार्थना की.
उस सेठ ने यहाँ मंदिर का निर्माण करवाया और उसी वक्त से यह कहा जाता है की चर्म रोग होने पर इस शिव लिंग में भगवान शिव को झाड़ू चढ़ाना चाहिए ऐसा करने से लोगो के रोग दूर होंगे इसलिए श्रद्धालु आज भी यहाँ झाड़ू चढाते है !
[ads3]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *