छाया सोमेश्वर – भगवान शिव पर पड़ती है एक अज्ञात छाया- 1000 साल पुराने मंदिर का रहस्य!

download (1)

हमने बहुत से अनोखे और चमत्कारिक मंदिरों के बारे में पढ़ा है.

बहुत से चमत्कारिक मंदिरों में हम दर्शन के लिए भी जाते है. क्या आप जानते है कि हमारे पूर्वज ना केवल धर्म के मामले में अपितु विज्ञानं और स्थापत्य के मामले में भी हमसे आगे थे.

इसका सबसे बड़ा प्रमाण दक्षिण भारत में मिलने वाले अद्भुत स्थापत्य और वास्तुकला वाले मंदिर है.

हैदराबाद से करीब 100 किलोमीटर दूर नालगोंडा में भी एक इसी प्रकार का विलक्षण शिव मंदिर है. कहा जाता है कि ये मंदिर करीब 1000 साल पुराना है. कला की दृष्टि से ये मंदिर अपने आप में अनोखा है.

 

इस शिव मंदिर का नाम छाया सोमेश्वर मंदिर है .

इस मंदिर से एक रहस्य जुड़ा है। इस मंदिर में हर समय भगवान शिव की मूर्ति के ऊपर किसी की छाया पड़ती है।

 

someshwar mahadev pic
मंदिर में बहुत से खम्बे है जो मंदिर को सहारा देते है लेकिन रहस्य की बात ये है कि यदि आप सभी खम्बों के सामने भी खड़े हो जाएँ तो भी भगवान् शिव पर छाया पड़ती दिखाई देती है।
शिव के पीछे दिखने वाली इस छाया का रहस्य बहुत समय से रहस्य ही बना हुआ है। बहुत से लोग इसे चमत्कार मानते हैं।

वैज्ञानिकों के अनुसार ये छाया किसी चमत्कार का परिणाम नहीं, ये विज्ञान के एक सिद्धांत आधारित है.
Diffraction of Light या प्रकाश का विवर्तन सिद्धांत कहता है कि यदि प्रकाश के मार्ग में कोई अवरोध आ जाये तो प्रकश की किरने उस अवरोध से टकराकर रास्ता बदल देती है, इसके परिणामस्वरूप उस अवरोध की छाया दिखाई देती है.
परन्तु विज्ञान कुछ भी कहे पर भगवान् शिव के अस्तित्व और उनके चमत्कार से इंकार नहीं किया जा सकता।
जय जय महाकाल। हर हर महादेव।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *