42 दिनों में कैंसर ख़तम ! 45000 से ज्यादा लोगों को ठीक करने का दावा Rudolf Breuss  !!

42 दिनों में कैंसर ख़तम ! 45000 से ज्यादा लोगों को ठीक करने का दावा ऑस्ट्रिया के प्राकृतिक चिकित्सक Rudolf Breuss के विशेष जूस से..!! alternative cancer treatments

 

 42 दिनों में cancer ख़तम ! 45000 से ज्यादा लोगों को ठीक करने का दावा ऑस्ट्रिया के  प्राकृतिक चिकित्सक Rudolf Breuss के विशेष जूस से..!! – alternative cancer treatments

ऑस्ट्रिया के  रुडोल्फ Breuss ने cancer के लिए सबसे अच्छा प्राकृतिक इलाज (alternative cancer treatments) खोजने के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित किया है।Rudolf Breuss  ने  बताया के cancer ठोस भोजन पर ही जिंदा रहता है , cancer को बढ़ने से रोका  जा सकता है अगर cancer का मरीज़ 42 दिन तक सिर्फ सब्जिओं का रस और चाय ही ले | कैंसर का इलाज 

Rudolf Breuss ने एक ख़ास जूस तयार किया जिसके बहुत ही शानदार नतीजे देखने को मिले , उन्होंने इस तरीके से 45,000 से भी ज़यादा लोग जिन्हें कैंसर या कई इसी लाइलाज बीमारियाँ थी को ठीक किया | ब्रोज्स का कहना था के कैंसर सिर्फ प्रोटीन पर ही  जिंदा रहता है | alternative cancer treatments in hindi

breuss का cancer को ठीक करने का ये तरीका 42 दिन तक चलता है , कियोंके cancer के सेल्स का मेटाबोलिज्म हमारे शारीर में मोजूद बाकी सेल्स से अलग होता है , breuss का ये ख़ास किसम का रस इस तरीके से तयार किया गया है  जिस से cancer के सेल्स तक कोई ठोस प्रोटीन युक्त भोजन ना  पहुच सके और कोई खुराक न मिलने के कारण उसके सेल्स अपने आप  ख़त्म हो जाएँ परन्तु  ये रस शारीर के बाकि सेल्स को कोई नुकसान नही पहुचाता | alternative cancer treatments in hindi

READ  फिटकरी का फुला बनाने की विधि और उस के मुह के छाले से लेकर कैंसर तक में उपयोग !!

इन 42 दिनों के दौरान सभी कच्चे फल और सब्जियां तरल रूप में दिए जाते हैं | breuss ने इस बात पर ख़ास जोर दिया है के कैंसर के मरीज़ को 42 दिनों के लिए सिर्फ रस और चाय हे दी जाये इसके इलावा कोई भी ठोस चीज़ खाने के लिए नही दी जाये  | इस दौरान इस्तेमाल की जाने वाली सब्जियां कुदरती (organic ) तरीके से उगाइ गई हों और अच्छे से साफ की गई हों |कियोंकि कैंसर के सेल ठोस खाने में पाए जाने वाले प्रोटीन पर ही जिंदा रहते हैं तो अगर आप  42 दिनों के लिए कुछ  भी ठोस नही खायेंगे और सिर्फ जूस और चाय ही  लेंगे तो cancer के cell अपने आप  ख़तम हो जायेंगे और शारीर के normal cell उसी तरह रहेंगे |

alternative cancer treatments in hindi

कच्चे फल और सब्जिओं का रस हमेशा से बहुत सारी  बिमारिओं के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है | विज्ञानं ने भी ये साबित किया है के कच्चे फल और सब्जिओं में anti oxidants और कई ऐसे  तत्व पाए जाते है जिनका हमारे भोजन में शामिल होना बहुत ज़रूरी है ता के हम आज कल के वातावरण में खुद को खतरनाक बिमारिओं से बचा सकें |

कैंसर रोगियों के लिए बड़ी खबर – हर स्टेज का कैंसर हो सकता है सही – कैंसर का इलाज

 

इस ख़ास जूस  में इस्तेमाल होने वाले फल और सब्जियां: alternative cancer treatments in hindi

1 चुकंदर  (beet root)

1 गाजर   (carrot)

1/2 आलू (potato)

1/4 मूली      (radish) 2 %

5 gram अजवायन के पौधे की डंडी (celery stick) अगर ना मिले तो अजवायन का सत्व (2 ग्राम) भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

READ  आंखों के नीचे काले घेरे और झुर्रियां दूर करने के घरेलू उपाय।

जहाँ तक संभव हो सभी चीजें organic इस्तेमाल कीजिये| वैसे उपरोक्त चीजें ज़मीन के अन्दर होती हैं तो ऊपर से रासायनिक छिडकाव होता है, मगर ज़मीन में यूरिया वगैरह डालने के कारण इनका प्रभाव कम मिलता है. इसलिए कोशिश करें के आर्गेनिक मिले.

सभी चीज़ों को जूसर  में डाल  कर अच्छे से रस निकाल  लें और इसे छान लें ता के कोई भी ठोस चीज़ उस में न जाएँ  | गिलास में डाल कर इसे ताज़ा पीयें |

अति विशेष – अगर कोई भाई बहन जिसको कैंसर हो वो चाहे कोई भी इलाज करवा रहा हो उसको उसके चल रहे इलाज के साथ यहाँ बताया गया डाइट चार्ट ज़रूर फॉलो करवाओ, Only Ayurved इस डाइट चार्ट को देकर अनेक रोगियों को स्वास्थ्य प्रदान कर रहा है. आप भी इस काम में सहयोगी बने.

[कैंसर के हर रोगी के लिए डाइट चार्ट ज़रूर पढ़ें – कैसा भी कैंसर हो, किसी भी स्टेज का कैंसर हो सही हो सकता है इस डाइट चार्ट से]

 

Related Post