केएल राहुल को बाहर करने पर विराट से नाराज हुए लक्ष्मण, कहा- यह बर्ताव ठीक नहीं

नई दिल्ली : टीम इंडिया के इंग्लैंड दौरे में टी20 सीरीज जीतने के बाद कप्तान विराट कोहली की टोली वनडे सीरीज में 2-1 से शर्मनाक तरीके से हार गई. इस हार के बाद कप्तान कोहली के फैसलों की भी आलोचना शुरू हो गई ह, जिसमें सबसे ज्यादा निशाने पर तीसरे वनडे में केएल राहुल को टीम में जगह न देना थ. राहुल टी20 सीरीज में बढ़िया फार्म में खेले थे और उन्होंने एक शतक भी लगाया था. दूसरे वनडे में ही नाकाम होने की सजा मिली और तीसरे वनडे में उन्हें अंतिम 11 में नहीं चुना गया. विराट के इस फैसले की भारत के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने भी तीखी आलोचना की है.

राहुल ने जहां आयरलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में एक एक शतक लगाया था वहीं वनडे सीरीज के पहले मैच में वे रोहित शर्मा के साथ बल्लेबाजी करते हुए 18 गेदों पर 9 रन बनाकर नाबाद लौटे थे और वे मैदान पर तभी आए थे जब टीम जीत की दहलीज पर पहुंच चुकी थी. दूसरे वनडे में जरूर राहुल अपनी दूसरी ही गेंद पर लियाम प्लैंकट की गेंद पर विकेट पीछे जोस बटलर को कैच देकर शून्य पर आउट हो गए. इसके बाद तीसरे वनडे में राहुल को अंतिम 11 से ही बाहर करने का विराट का फैसला लोगों को रास नहीं आया.

वहीं राहुल की जगह आए दिनेश कार्तिक ने इस मैच में 22 गेंदों पर 21 रन ही बनाए और सुरेश रैना जो इंग्लैंड दौरे पर इतने मैच खेलने के बाद दूसरे वनडे में संघर्ष ही करते हुए 46 रन बना पाए थे, वे भी तीसरे वनडे में 4 गेंद खेलकर 1 रन बनाकर चलते दिखाई दिए. विराट के इस फैसले पर सबसे ज्यादा नाराज वीवीएस लक्ष्मण दिखाई दिए. लक्ष्मण का कहना है कि यह इस युवा खिलाड़ी के साथ उचित व्यवहार नहीं है. लक्ष्मण का कहना था कि यदि बदलाव चोट की वजह से नहीं है तो उन्हें वाकई निराशा हुई, क्योंकि ऐसा राहुल के साथ पहली बार नहीं हुआ. वह केवल एक ही पारी में नाकाम हुआ था. पहले मैच में वह नाबाद रहा था जब टीम इंडिया ने पहले वनडे में जीत हासिल की थी.

READ  कैसे खुद कराटे की बेसिक सीखें -how to learn karate at home

लक्ष्मण ने कहा, “ यादि आप किसी खिलाड़ी के साथ ऐसा बर्ताव करेंगे खासकर जब वह शानदार खिलाड़ी हो, यह आपको सुनिश्चित करना होगा वह अच्छा प्रदर्शन करे. मुझे नहीं लगता कि यह किसी युवा खिलाड़ि के साथ उचित बर्ताव है.”

बल्लेबाजी की वजह से ही हारी  टीम इंडिया वनडे सीरीज
गौरतलब है कि इस मैच में टीम इंडिया पहले बल्लेबाजी करते हुए 8 विकेट खोकर केवल 256 रन ही बना सकी थी जिसके बाद इंग्लैंड ने इस लक्ष्य को आसानी से 45 ओवर तक ही दो विकेट खोकर हासिल कर लिया था. इंग्लैंड की ओर से एक बार फिर जो रूट ने शानदार शतक लगाय़ा था जबकि कप्तान इयोन मोर्गन ने 88 रन बनाए थे. वहीं टीम इंडिया की ओर से सबसे ज्यादा रन कप्तान विराट कोहली ने (71) बनाए थे. उनके अलावा, शिखर धवन ने 44, एमएस धोनी ने 42 रन बनाए लेकिन अंतिम ओवरों में भुवनेश्वर कुमार ने 21 और शार्दुल ठाकुर ने 22 रन बनाए जिसकी वजह से टीम इंडिया का स्कोर 250 के पार हो सका था.

इस समय टीम इंडिया की बल्लेबाजी की जबर्दस्त आलोचना हो रही है. जिसकी नाकामी की वजह से वह अंतिम दोनों वनडे मैच हार कर सीरीज गंवा बैठी. अब आगामी एक अगस्त से टीम इंडिया को इंग्लैंड के साथ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है.