India Become Most Dangerous Place for Women: भारत महिलाओं के लिए दुनिया का सबसे खतरनाक देश

एक इंटरनेशनल सर्वे ने सभी के होश उड़ा दिए हैं. इस रिपोर्ट के मुताबिक भारत को महिलाओं की सुरक्षा के लिहाज से दुनिया का सबसे खतरनाक देश बताया है. रिपोर्ट के मुताबिक, यौन अपराध और जबरदस्ती काम कराने के चलते भारत को टॉप पर रखा गया. बता दें, 548 जानकारों की राय से यह रिपोर्ट तैयार की गई है. भारत के बाद दूसरे नंबर पर अफगानिस्तान और तीसरे नंबर पर सीरिया है. मंगलवार को थॉमसन रॉयटर्स फाउंडेशन ने ये सर्वे किया.

भारत के लिए ये रिपोर्ट एक बड़ा झटका है, क्योंकि सात साल पहले इसी रिपोर्ट में भारत को सातवें पायदान पर रखा गया था. 2011 में हुए इस सर्वे के मुताबिक अफगानिस्तान, कॉन्गो, पाकिस्तान, भारत और सोमालिया महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक देश माने गए थे. लेकिन इस साल महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराधों के मामले में भारत दूसरे देशों से आगे निकल गया. देश में महिलाओं की सुरक्षा का मुद्दा आए दिन उठता रहता है पर फिर भी जमीनी तौर पर महिलाएं भारत में ही सबसे ज्यादा खतरे में हैं.

भारत में है दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी दीवार-Incredible India

सर्वे में महिलाओं के प्रति यौन हिंसा और सेक्स धंधों में ढकेले जाने के आधार पर भारत को महिलाओं के लिए खतरनाक बताया गया है. रॉयटर्स के मुताबिक, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने इस सर्वे के परिणामों पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, 2007 से 2016 के बीच महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध में 83 फीसदी का इजाफा हुआ है.

READ  उस रात जब अमेरिका बिना अनुमति के पाकिस्तान के इस घर में प्रवेश किया तब ...

जानकारों की मानें तो उनका कहना है कि भारत में महिलाओं के प्रति अपराधों से निपटने के लिए कोई कोशिश नहीं की गई. जिसके कारण भारत के हालात खराब हो गए. इस रिपोर्ट में भारत, लीबिया और म्यांमार मानव तस्करी के मामले में सबसे खतरनाक माने गए हैं.

वहीं नाइजीरिया और रूस चौथे स्थान पर हैं. सात साल पहले जब यही सर्वे आया था तो भारत चौथा सबसे खतरनाक देश माना गया था. उस वक्त अफगानिस्तान, कांगो, पाकिस्तान, भारत और सोमालिया को सबसे खतरनाक देश बताया था. इस बार पाकिस्तान छठे नंबर पर रखा गया है.

ग्रामीण महिलाओं की स्थिति चिंताजनक: रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में महिलाओं को तस्करी से सबसे ज्यादा खतरा है। महिलाओं को भारत में अभी भी यौन शोषण की चीज माना जाता है। भारत में 2016 में मानव तस्करी के 15 हजार मामले दर्ज किए गए जिनमें से दो तिहाई महिलाओं से जुड़े थे। इनमें से आधी महिलाओं की उम्र 18 साल से कम थी। ज्यादातर महिलाओं को जिस्मफरोशी या घर में काम करने के लिए बेचा गया था।

Saudi Arabia to lift 35-year ban on movie theaters

भारत की तस्करी विरोधी संस्था रेस्क्यू फाउंडेशन की त्रिवेणी आचार्य कहती हैं, “तस्करी एक वैश्विक मुद्दा है लेकिन मैंने जितनी भी पीड़िता देखी हैं, उनमें दक्षिण-पूर्व भारत खासकर भारत की सबसे ज्यादा विक्टिम हैं। लड़कियों को अभी भी उनके माता-पिता बोझ और लड़कों से कमतर मानते हैं। ग्रामीण लड़कियों को बड़े शहरों में नौकरी दिलाने या शादी कराने के नाम पर ले जाया जाता है।’

Why India Become Most Dangerous Place for Women?

भारत में महिलाओं की सुरक्षा करने में कानून नाकाफी: दिसंबर 2012 में दिल्ली में निर्भया सामूहिक दुष्कर्म केस हुआ। पीड़िता की इलाज के दौरान मौत हो गई। इसके बाद केंद्र सरकार ने यौन हिंसा को रोकने के लिए कई सुधार किए। यौन हिंसा पर जुर्माना और सजा की अवधि बढ़ाई है, दोषी को मौत की सजा का प्रस्ताव भी रखा है। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड्स ब्यूरो (एनसीआरबी) के मुताबिक, भारत में रोज यौन हिंसा के 100 मामले दर्ज हो रहे हैं। 2016 में महिलाओं पर कथित रूप से 39 हजार हमले हुए। 2015 के मुकाबले ये आंकड़ा 12% ज्यादा है।

READ  65 साल की उम्र में इमरान खान ने तीसरी बार किया निकाह, जानिए कौन है ये महिला !!

राहुल ने कहा- ये देश के लिए शर्म की बात: सर्वे को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट में कहा, ”जब हमारे प्रधानमंत्री गार्डन में घूमकर योग का वीडियो बना रहे थे, तब भारत महिलाओं के साथ हिंसा और अत्याचार के मामले में सीरिया, अफगानिस्तान और सऊदी अरब से आगे निकल गया। यह देश के लिए शर्म की बात है।”

सर्वे के मुताबिक, सबसे खतरनाक देश – Most Dangerous Place for Women

  1. भारत
  2. अफगानिस्तान
  3. सीरिया
  4. सोमालिया
  5. सऊदी अरब
  6. पाकिस्तान
  7. डेमोक्रेटिक- रिपब्लिक ऑफ कांगो
  8. यमन
  9. नाइजीरिया
  10. अमेरिका

Related Post