पत्नी करेगी 5 काम तो पति का दुर्भाग्य बदल सकता है सौभाग्य में

अगर किसी व्यक्ति को कुंडली के ग्रह दोषों की वजह से परेशानियां का सामना करना पड़ रहा है तो उसे ज्योतिष में बताए गए उपाय करते रहना चाहिए। साथ ही, पत्नी भी शुभ करेगी तो पति की बुरी किस्मत भी बदल सकती है। उज्जैन इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी और ज्योतिर्विद पं. सुनील नागर के अनुसार पति-पत्नी का भाग्य एक साथ जुड़ा रहता है। अगर दोनों में से कोई एक गलत काम करता है तो उसका फल दोनों को ही मिलता है। ठीक इसी प्रकार शुभ काम करने से दोनों को ही लाभ मिल सकते हैं।

यहां जानिए कुछ ऐसे उपाय जो पत्नी को करना चाहिए, जिनसे पति के कार्यों की बाधाएं दूर हो सकती हैं, दुर्भाग्य सौभाग्य में बदल सकता है…

  • पहला उपाय

रोज सुबह जल्दी उठें और स्नान के बाद तुलसी को जल चढ़ाएं। इसके बाद गुलाब या गेंदे के फूल पर कुमकुम, चावल लगाकर तुलसी को चढ़ाएं। पति की परेशानियां दूर करने की प्रार्थना करें। इस उपाय से पति को शुभ फल मिल सकते हैं।

  • दूसरा उपाय

शनिवार को सरसों के तेल में मीठे भजिए बनाएं। ये भजिए किसी गरीब को खिलाएं। इस उपाय से शनि के कारण आ रही परेशानियां दूर हो सकती हैं।

  • तीसरा उपाय

सूखे नारियल (खोपरा) के आधे भाग में चीनी भरकर किसी पीपल के नीचें रख दें। भगवान से वैवाहिक जीवन सुखी बनाने की प्रार्थना करें।

  • चौथा उपाय

रोज शिवजी के साथ माता पार्वती की पूजा भी करें। माता पार्वती को सिंदूर चढ़ाएं। इस उपाय से सौभाग्य बढ़ता है।

  • पांचवां उपाय

समय-समय पर किसी किन्नर को धन का दान करें। किन्नर की दुआओं से सभी मुसीबतें टल सकती हैं।

READ  भगवान शिव को खुश करना हो तो चढ़ाएँ यह 11 सामग्री, अति प्रिय है भगवान शिव को

इन लोगों के आस-पास मंडराती है बुरी शक्तियां

प्रत्येक इंसान के जीवन में अच्छा-बुरा दोनों तरह का समय आता है। वास्तु के अनुसार ये अच्छा समय वातावरण में फैली सकारात्मक तथा नकारात्मक शक्ति से होता है। इनमें से सकारात्मक शक्ति के आस-पास होने पर मनुष्य के दिलों-दिमाग पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। वहीं नकारात्मक शक्ति के समीप होने पर व्यक्ति को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। कईं बार इंसान स्वयं ही अपनी दिनचर्या में कुछ ऐसे काम कर बैठता है जिसकी वजह से बुरी शक्तियां उस पर हावी होने लगती हैं। तो आईए जानें उन गलतियां के बारे में, जिनसे मनुष्य पर बुरी शक्तियां का प्रभाव पड़ना शुरु हो जाता है।

कुछ मान्यताओं के अनुसार बुरी शक्तियां रात में अधिक सक्रिय होती हैं। इसलिए रात को सोने से पहले परफ्यूम या इत्र का प्रयोग बिल्कुल नहीं करना चाहिए। क्योंकि इन सुंगधित चीज़ों से बुरी शक्तियां जल्दी आकर्षित और प्रभावित होती हैं।

मान्यता के अनुसार गर्भवती महिलाओं को रात में किसी सुनसान या चौराहे पर नहीं जाना चाहिए। यहां पर भी बुरी शक्तियां सक्रिय अवस्था में उपस्थित होती हैं।

किसी की शवयात्रा से लौटाते हुए कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखना चाहिए। साथ ही शवयात्रा से लौटकर घर में प्रवेश करने से पहले स्नान ज़रूर करना चाहिए। ऐसा नहीं करने से बुरी ताकतें साथ आ जाती हैं।

किसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त व्यक्ति का आत्मबल बहुत कमज़ोर होता है। कमज़ोर आत्मबल वाले इंसान के पास बुरी शक्तियां जल्दी आकर्षित होती हैं।

प्रत्येक इंसान के जीवन में अच्छा-बुरा दोनों तरह का समय आता है। वास्तु के अनुसार ये अच्छा समय वातावरण में फैली सकारात्मक तथा नकारात्मक शक्ति से होता है। इनमें से सकारात्मक शक्ति के आस-पास होने पर मनुष्य के दिलों-दिमाग पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। वहीं नकारात्मक शक्ति के समीप होने पर व्यक्ति को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। कईं बार इंसान स्वयं ही अपनी दिनचर्या में कुछ ऐसे काम कर बैठता है जिसकी वजह से बुरी शक्तियां उस पर हावी होने लगती हैं। तो आईए जानें उन गलतियां के बारे में, जिनसे मनुष्य पर बुरी शक्तियां का प्रभाव पड़ना शुरु हो जाता है।

READ  ”इसलिए नहीं लेनी चाहिए किन्नरो की बद्दुआ”, पुराण में छुपा हे यह रहस्य !

कुछ मान्यताओं के अनुसार बुरी शक्तियां रात में अधिक सक्रिय होती हैं। इसलिए रात को सोने से पहले परफ्यूम या इत्र का प्रयोग बिल्कुल नहीं करना चाहिए। क्योंकि इन सुंगधित चीज़ों से बुरी शक्तियां जल्दी आकर्षित और प्रभावित होती हैं।

मान्यता के अनुसार गर्भवती महिलाओं को रात में किसी सुनसान या चौराहे पर नहीं जाना चाहिए। यहां पर भी बुरी शक्तियां सक्रिय अवस्था में उपस्थित होती हैं।

किसी की शवयात्रा से लौटाते हुए कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखना चाहिए। साथ ही शवयात्रा से लौटकर घर में प्रवेश करने से पहले स्नान ज़रूर करना चाहिए। ऐसा नहीं करने से बुरी ताकतें साथ आ जाती हैं।

किसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त व्यक्ति का आत्मबल बहुत कमज़ोर होता है। कमज़ोर आत्मबल वाले इंसान के पास बुरी शक्तियां जल्दी आकर्षित होती हैं।

Related Post