‘माई नेम इज खान’ के 8 साल हुए पूरे, करण जौहर ने कहा इस वजह से खास है फिल्म

‘माई नेम इज खान’ के 8 साल हुए पूरे

नई दिल्ली: फिल्मकार करण जौहर का कहना है कि उनके लिए साल 2010 में रिलीज हुई फिल्म ‘माई नेम इज खान’ हमेशा बेहद खास रहेगी क्योंकि यह बेहद प्रासंगिक फिल्म है. सुपरस्टार शाहरुख खान और काजोल अभिनीत फिल्म ‘माई नेम की इज खान’ की रिलीज को सोमवार को आठ साल पूरे हो गए. करण ने ट्वीट कर कहा, “यह फिल्म हमेशा मेरे लिए बेहद विशेष रहेगी. धड़कते दिल वाली प्रासंगिक फिल्म. शाहरुख खान, काजोल मेरे अनुभव को इतना ऐतिहासिक बनाने के लिए आपका धन्यवाद.”

फिल्म रिजवान खान नामक एक किरदार पर आधारित है, जो ऑटिस्टिक है. रिजवान अमेरिका के राष्ट्रपति से मिलने की यात्रा पर निकलता है और इस दौरान वह अपने धर्म के बारे में लोगों की धारणा बदलने का प्रयास करता है. इस फिल्म में शाहरुख खान की एक्टिंग की काफी सरहाना की गई थी. फिल्म में शाहरुख का किरदार काफी अलग है जो हर किसी के दिल पर जादू कर देता है. फिल्म में शाहरुख का एक डायलॉग इस फिल्म की पृष्ठभूमि को बंया करता है और यह डायलॉग है, माई नेम इज खान एंड आई एम नॉट अ टेरिरिस्ट.

गौरतलब है कि करण इस वक्त कई फिल्मों को प्रोड्यूस कर रहे हैं. इनमें रणबीर-आलिया की फिल्म ब्रह्मास्त्र से लेकर जाह्नवी और ईशान की फिल्म धड़क तक का नाम शामिल है. इसके अलावा इन दिनों करण टीवी चैनल स्टार प्लस के प्रोग्राम इंडियाज नेक्स्ट सुपरस्टार को जज कर रहे हैं. इस प्रोग्राम को उनके साथ रोहित शेट्टी भी जज कर रहे हैं.

READ  बिग बी को 'केबीसी' में अपनी कंप्यूटर स्क्रीन पर नजर आती हैं इतनी सारी बातें |

 

Related Post