शिवरात्रि पर कर सकते हैं तंत्र के ये 10 उपाय, जिनसे चमक सकती है आपकी किस्मत

शिवरात्रि के शिवजी के उपाय करने से कुंडली के दोष भी दूर हो सकते हैं।

14 फरवरी को शिवरात्रि है। पंचांगभेद के कारण कुछ जगहों पर 13 फरवरी को शिवरात्रि मनेगी। शिवपुराण के अनुसार इन दिन शिवजी की पूजा करने से हर मनोकामना पूरी हो सकती है। शिवजी तंत्र के देवता हैं। इस वजह से शिवरात्रि पर तंत्र के उपाय करने से जल्दी ही शुभ फल मिल सकते हैं।

यहां जानिए तंत्र के कुछ खास उपाय…

1. घर में पारद शिवलिंग की विधि-विधान से पूजा करें। इसके बाद नीचे लिखे मंत्र का 108 बार जाप करें-

ऐं ह्रीं श्रीं ऊँ नम: शिवाय: श्रीं ह्रीं ऐं

हर बार मंत्र जाप के बाद शिवलिंग पर एक-एक बिल्वपत्र चढ़ाएं। पूजा में चढ़ाया हुआ अंतिम 108 वां बिल्वपत्र निकाल लें और उसे अपने घर के मंदिर में रखें। इसके बाद रोज इस पत्ते की भी पूजा करें। इस उपाय से दुर्भाग्य दूर हो सकता है।

click here for more detail 

2. किसी शिव मंदिर में जाएं और शिवलिंग पर दूध, जल, काले तिल चढ़ाकर अभिषेक करें। दूध चढ़ाने के लिए चांदी के बर्तन का उपयोग करना चाहिए। अभिषेक करते समय ऊं जूं स: मंत्र का जाप करते रहना चाहिए। इसके बाद भगवान शिव से परेशानियां दूर करने की प्रार्थना करें।
3. शिवरात्रि पर सुगंधित जल से भगवान शिव का अभिषेक करें। इसके लिए अलग-अलग फूल और इत्र जल में मिलाएं और शिवलिंग पर चढ़ाएं। शक्कर मिले हुए दूध से भी शिवलिंग का अभिषेक कर सकते हैं।
4. शिवरात्रि पर 21 बिल्वपत्रों पर चंदन से ऊं नम: शिवाय मंत्र लिखें और शिवलिंग पर चढ़ाएं। इसके बाद एक रुद्राक्ष भी शिवजी को अर्पित करें।

READ  महाशिवरात्रि के दिन बरतें ये सावधानियां, शिव उपासना से जीवन में सुख, समृद्धी, निरोगी शरीर और बेहतर जीवन का आर्शीवाद मिलता है

click here for more detail 

5. अगर आपके घर में किसी भी प्रकार की परेशानी हो तो शिवरात्रि की सुबह घर में गोमूत्र का छिड़काव करें और गुग्गुल की धूप दें।
6. शिवरात्रि पर शिवलिंग पर केसर मिला हुआ दूध चढ़ाने से भी परेशानियां दूर हो सकती हैं।
7.शिवजी के वाहन नंदी (बैल) को हरी घास खिलाएं।

8. किसी गरीब को भोजन कराएं। इससे घर अन्न की कमी नहीं होती है।
9. सुबह जल्दी उठकर किसी शिव मंदिर में जाएं और भगवान शिव का जल से अभिषेक करें और उन्हें काले तिल चढ़ाएं। इसके बाद ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जाप 108 बार करें।
10.शिवरात्रि पर किसी नदी या तालाब जाकर आटे की गोलियां मछलियों को खिलाएं। जब तक यह काम करें शिवजी का ध्यान करें।

Related Post