तैयार हुआ रामराज्य रथ, राम मंदिर के लिए 28 साल बाद फिर शुरू होगी यात्रा

रामराज्य रथ यात्रा के लिए रथ तैयार हो चुका है. यह यात्रा महाशिवरात्रि के पर्व पर 13 फरवरी से शुरू होगी. रथ यात्रा रामेश्वरम में जाकर खत्म होगी. माना जा रहा है कि रथ यात्रो को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हरी झंडी दिखा सकते हैं. रामराज्य रथ यात्रा का आयोजन श्रीराम दास मिशन यूनिवर्सल सोसाइटी कर रही है. इस  रामराज्य रथ यात्रा का मुख्य उद्देश्य श्रीराम जन्मभूमि पर राम मंदिर का निर्माण करवाना है. गौरतलब है कि 28 साल पहले अयोध्या में विवादित भूमि पर राम मंदिर के निर्माण के लिए लालकृष्ण आडवानी की अगुवाई में भी रथ यात्रा निकाली गई थी.

13 फरवरी को शुरू होगी यात्रा
संस्था के श्री शक्तित शांतानंद महर्षि व पराग बुआ रामदासी ने जानकारी देते हुए बताया कि, आगामी  13 फरवरी को सुबह 10 बजे से दोपहार एक बजे तक कारसेवकपुरम् में महंत नृत्यगोपाल दास की अध्यक्षता में और महंत कमल नयन दास के मार्गदर्शन में संत सभा का आयोजन किया जाएगा.


इस सभा में बड़ी संख्या में संत-धर्माचार्य उपस्थित रहेंगे. उसके बाद दोपहर 2 से 4 बजे तक रामराज्य रथ यात्रा का उद्घाटन समारोह होगा. 4 बजे से कारसेवकपुरम् से रथ यात्रा शुरू होगी, जो कारसेवकपुरम् से होते हुए नयाघाट मुख्य मार्ग से फैजाबाद जाएगी.

41 दिन की यात्रा ऐसे पूरी होगी
इसी तरह फैजाबाद से नंदीग्राम भरतकुंड में रथयात्रा का पहल विश्राम होगा. 41 दिन की इस रथ यात्रा के दौरान नियोजित स्थानों पर प्रतिदिन शोभा यात्रा एवं राम राज्य सम्मेलन अयोजित होगा. सभी हिन्दू संगठनों के सहयोग से चलने वाली राम राज्य रथ यात्रा का समापन सम्मेलन 24 एवं 25 मार्च को श्रीपद्भनाथ स्वामी मंदिर त्रिरूअनन्तपुरम् केरल में स्वामी सत्यानंद सरस्वती नगरी मैदान में होगा.

READ  भगवान हनुमान ने क्यों लिया पंचमुखी अवतार ?