इंटरनेट की Backchod बिल्ली को मिला 7 लाख डॉलर का हर्जाना

इंटरनेट का दखल मानव जीवन में बेहद ही बढ़ चुका है. इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अब इंटरनेट के सितारे इंसानों के कोर्ट रूम तक पहुंच कर अदालती मामले जीत रहे हैं. साथ ही हर्जाना भी वसूल रहे है.

इंटरनेट की दुनिया की एक बड़ी ब्रांड

तस्वीर में नजर आ रही इस बिल्ली को एक आम बिल्ली मत समझिए, बल्कि यह बिल्ली इंटरनेट की दुनिया की एक बड़ी ब्रांड है. जो असल में कोई जीव नहीं है. इसे अपने हावभाव के साथ एक कंपनी ने खासतौर पर इंटरनेट मेमे के रूप में डिजाइन किया था. इस बिल्ली का असली नाम टारडर सॉस है. हाल में इस मेमे को बनाने वाली कंपनी ने अदालत में 7 लाख 10 हजार डॉलर का हर्जाना हासिल किया है. अलग-अलग मूडों के चलते चर्चा में बनी रहने वाली यह बिल्ली कैलीफोर्निया की अदालत में एक मामले में मुख्य पार्टी थी.

ग्रानेड बेवरेज और बिल्ली की कंपनी मालिक बुंडसेन के बीच कॉफी ड्रिंक्स के विज्ञापन को लेकर एक समझौता हुआ था, जिस पर बाद में विवाद हुआ. बिल्ली मालिक की कंपनी ग्रंपी कैट लिमिटेड का तर्क था कि विज्ञापन में जिस तरह से बिल्ली का इस्तेमाल किया गया है वह समझौते की शर्तों से ज्यादा है. साथ ही बिल्ली का चेहरा कुछ अन्य प्रॉडक्ट्स को दिखाने के लिए भी इस्तेमाल किया गया जिन पर बात नहीं हुई थी.

अदालत ने अपने आदेश में बुंडसेन को 7 लाख 10 हजार डॉलर का हर्जाना देने के लिए कहा है. यह पहला मौका है जब किसी इंटरनेट मेमे ने कोर्ट में मामला जाता है. यह बिल्ली का मेमे साल 2012 में चर्चा में आया था जब बुंडसेन के भाई ने इसे इंटरनेट पर पोस्ट किया था. इसके बाद से लेकर अब तक बिल्ली कॉफी, टीवी शो, फिल्मों, कॉमीकोन में नजर आ चुकी है.

READ  आख़िर क्यों नहीं मिलती चंगेज़ ख़ान की कब्र ? आठ सदियों बाद भी ?