मिलिए मानव इतिहास के सबसे अमीर लोगों से-इतना अमीर और कोई नहीं हुआ

जब भी दुनिया के सबसे अमीर लोगों की बात चलती है तो पहला ख्याल बिल गेट्स, वॉरेन बफेट और कार्लोस स्लिम का आता है। लेकिन आपमें से शायद कम लोग ही जानते होंगे कि इतिहास में अब तक का सबसे अमीर व्यक्ति अफ्रीका का रहने वाला था।

मनसा मूसा, माली (1280-1337)

जी हां, अफ्रीका महाद्वीप, जिसके अधिकतर देश गृहयुद्ध के शिकार हैं। धर्म और जाति के आधार पर नाइजीरिया, माली, रवांडा, युगांडा और सूडान जैसे देशों में खून बहाया जा रहा है। ऐसे में यहां 13वीं सदी में माली साम्राज्य का एक राजा मंसा मूसा (प्रथम) राज करता था।

सेलिब्रिटी नेटवर्थ वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक, उसके पास 400 बिलियन डॉलर की दौलत थी। आज की वेल्यू के हिसाब से वह मानव इतिहास का दुनिया का सबसे अमीर आदमी माना जाता है।

1331 में मृत्यु के वक्त उसकी व्यक्तिगत संपत्ति 400 बिलियन डॉलर ( यानी आज के वैल्यू के मुताबिक 24615980000000 रुपए) की थी। यह लगभग ऐसा ही जैसे गिनते-गिनते गिनती ही खत्म हो जाए। उसका देश पूरी दुनिया का आधे से ज्यादा नमक और सोने का उत्पादन करता था।

उसके दौर का एक किस्सा बड़ा मशहूर है। 1312 मूसा ने मक्का की यात्रा की थी। इस यात्रा के दौरान वह मिस्र के मामलुक सुल्तान अल-नासिर मोहम्मद से मिलने भी गए थे। बताया जाता है कि मूसा के बेड़े में हजारों लोग और ऊंट मौजूद थे, जिन पर सोना लदा हुआ था।

इतनी भारी संख्या में सोना मिस्र के सुल्तान को तोहफे में दिया गया था। कहा ये भी जाता है कि उन्होंने इतना सारा सोना मिस्र में मिलने वाली एक बहुमूल्य धातू के लिए अदा किया था। लेकिन बदनामी के डर से उन्होंने इसे तीर्थयात्रा का बहाना बनाकर हासिल किया।

READ  अमेरिका: तीन रईसों के पास है देश के 16 करोड़ लोगों के बराबर संपत्त्‍िा

कोई इतिहासकार मूसा की दौलत का अनुमान नहीं लगा पाया है.

इसके इलावा इतिहास के ये लोग कभी करते थे दुनिया पर राज़ अपनी अथाह और अकूत दौलत से, आइये डालते हैं एक नजर…

चंगेज खान, मंगोलियन साम्राज्य (1162-1227)


चंगेज खान के पास जितना साम्राज्य था, इतिहास में इतना बड़ा साम्राज्य और किसी का नहीं रहा. एक वक्त में उसने चीन से यूरोप तक विशाल धरती पर राज किया.

बिल गेट्स, अमेरिका


फोर्ब्स पत्रिका ने उद्योगपति बिल गेट्स की संपत्ति का अनुमान 78.9 अरब डॉलर लगाया है. उन्होंने अपनी माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के साथ दुनिया के कंप्यूटर से जोड़ने और डिजीटल युग की शुरुआत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.

ऐलन रूफस, इंग्लैंड (1040-1093)


इंग्लैंड के राजा विलियम के भतीजे रूफस सैनिक कमांडर थे. जब वह मरे तो उनके पास 11 हजार पाउंड थे. द रिचेस्ट ऑफ द रिच किताब लिखने वाले फिलिप बेरेसफर्ड और बिल रूबिनस्टाइन के मुताबिक यह धन तब के इंग्लैंड के जीडीपी का 7 फीसदी था जो 2014 में 194 अरब डॉलर होता.

जॉन डी रॉकफेलर, अमेरिका (1839-1937)


पेट्रोलियम मुगल कहे जाने वाले रॉकफेलर के पास एक वक्त में अमेरिका के पेट्रोलियम उद्योग के 90 फीसदी की मिल्कियत थी. न्यूयॉर्क टाइम्स ने उनके मरने पर लिखा था कि अमेरिका के जीडीपी की दो फीसदी थी उनकी संपत्ति. 2014 में इसकी कीमत 341 अरब डॉलर आंकी गई.

ऐंड्रयू कार्नेज, अमेरिका (1835-1919)


माना जाता है कि अब तक ऐंड्रयू कार्नेज से अमीर अमेरिका में कोई नहीं हुआ. 1901 में उन्होंने अपनी यूएस स्टील को 48 करोड़ डॉलर में बेचा था. 2014 में उनकी संपत्ति 372 अरब डॉलर होती.

READ  2 साल पहले ऐसी दिखती थीं मिस वर्ल्‍ड मानुषी छिल्‍लर

अकबर, भारत (1542-1605)


भारत के सम्राट अकबर के पास कभी दुनिया की एक चौथाई दौलत होती थी. आर्थिक इतिहासकार ऐंगस मैडिसन ने लिखा था कि अकबर के वक्त में भारत की जी़डीपी एलिजाबेथ के वक्त के इंग्लैंड के बराबर थी.

सम्राट शेंजोग, चीन (1048-1085)


चीन के आर्थिक इतिहासकार प्रोफेसर रोनाल्ड एडवर्ड्स के मुताबिक सोंग वंश के शासक शेजोंग के पास पूरी दुनिया की दौलत का 25 से 30 फीसदी था.

ऑगस्ट सीजर, रोम (63बीसी-14एडी)


स्टैनफर्ड के प्रोफेसर इयान मोरिस मानते हैं कि रोम के पास दुनिया की 25 से 30 फीसदी दौलत थी. और इस दौलत का 20 फीसदी सम्राट सीजर के पास था. 2014 में सीजर की दौलत 4.6 खरब डॉलर आंकी गई थी.

 

Related Post