अक्षय कुमार पर बोले पहलाज निहलानी, कहा- पान मसाला का विज्ञापन क्यों करते हैं?

हाल में सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने यह गाइडलाइन जारी की थी कि टीवी चैनलों पर कॉन्डम के विज्ञापन केवल रात में दिखाए जाएं क्योंकि इनका बच्चों पर गलत प्रभाव पड़ सकता है। अब इस मुद्दे पर सेंसर बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने भी अपनी राय रखी है।

उन्होंने कहा, ‘कॉन्डम नहीं बल्कि पान मसाला लोगों को मार रहा है। बच्चे अगर कॉन्डम का विज्ञापन देखेंगे तो उनकी जान को कोई खतरा नहीं है लेकिन पान-मसाला और गुटखा के विज्ञापन जरूर हमारे देश के स्वास्थ्य को खराब कर देंगे।’ इस मामले पर निहलानी ने अक्षय कुमार पर भी कॉमेंट कर दिया।

 

निहलानी ने कहा, ‘अक्षय की काफी साफ-सुथरी इमेज है। उन्हें समाज के एक बड़े वर्ग का हीरो माना जाता है तो आखिर क्यों वह एक पान मसाले के ब्रैंड का विज्ञापन करते हैं। इसी तरह गोविंदा और यहां तक कि पीयर्स बॉसनन भी पान मसाले का विज्ञापन करते हैं जिसके कारण कैंसर होता है। अगर यह नैशनल हैल्थ के लिए खराब नहीं है तो क्या है, कॉन्डम? स्मृति इरानी को बेहतर तरीके से इस पर ध्यान देना चाहिए।’

उन्होंने यह भी कहा कि शराब और पान मसाले के विज्ञापन प्रसारित करना गैर-कानूनी और असंवैधानिक है। निहलानी ने कहा, ‘कानून के मुताबिक सेंसर बोर्ड ऐसे विज्ञापनों को पास नहीं कर सकता है। इसलिए ऐसे प्रॉडक्ट्स का विज्ञापन प्रसारित करना गैर-कानूनी है। ऐसे विज्ञापनों में काम करने वाले ऐक्टर्स को भी यह समझना चाहिए कि वे गैर-कानूनी काम कर रहे हैं।’

सेंसर बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि वह इस बारे में लगातार सूचना और प्रसारण मंत्रालय को लिख रहे हैं लेकिन उन्हें इस पर कोई जवाब नहीं मिला। उन्होंने कहा, ‘यह ताज्जुब की बात है कि स्मृति जी असली दुश्मन के बजाय कॉन्डम के पीछे पड़ी हुई हैं।’

READ  ‘मैं आपको बजाता हूं’, मल्लिका दुआ पर अक्षय के कमेंट पर ट्विंकल खन्‍ना ने तोड़ी चुप्‍पी, पढ़ें क्‍या कहा

Related Post