छोले-भठूरे बेच रहा है विराट कोहली के साथ बैटिंग करने वाला यह भारतीय क्रिकेटर

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली आज किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। विराट अपने प्रदर्शन के दम पर क्रिकेट जगत में एक अलग ही मुकाम हासिल कर चुके हैं। यूं तो विराट के अपने करियर में कई उपलब्धिया हासिल की है। लेकिन अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतना उनके लिए बेहद स्पेशल रहा और विराट के करियर ने वहीं से करवट लेनी शुरू कर दी।

साल 2008 में जब विराट ने भारत के लिए अंडर-19 वर्ल्ड कप जीता था तो शायद ही किसी ने सोचा होगा कि विराट इतने कम समय में इतनी बड़ी कामयाबी हासिल कर लेंगे। लेकिन उस टीम में विराट के साथ एक ऐसा शख्स भी शामिल था जो अपनी बल्लेबाजी के दम पर गेंदबाजों की धुनाई करने का दम रखता था। उस खिलाड़ी का नाम था पैरी गोयल। पैरी गोयल भी विराट की तरह बल्लेबाजी करने के लिए जाने जाते थे। अपनी बल्लेबाजी के साथ-साथ वह विकेटकीपिंग भी किया करते थे। लेकिन किस्मत ने उनका ज्यादा समय तक साथ नहीं दिया और वह आज एक गुमनामी की जिंदगी जी रहे हैं।

दरअसल, पैरी गोयल आजकल अपना गुजारा छोले-भठूरे बेच कर करते हैं। लगातार खराब प्रदर्शन के बाद पैरी क्रिकेट से दूर होते चले गए जबकि उनके साथ खेलने वाले रविंद्र जडेजा और विराट कोहली आज भारतीय टीम में अपनी जगह बना चुके हैं। पैरी अपने प्रदर्शन को निरंतर रूप से बरकरार रखने में कामयाब नहीं हुए। आज पैरी लुधियाना में छोले-भठूरे और चाउमीन बेच रहे हैं।

पैरी पंजाब की ओर से खेला करते थे लेकिन खराब फॉर्म की वजह से उन्हें पंजाब की टीम से भी बाहर कर दिया गया था। इसके बाद पैरी वापसी करने में कामयाब नहीं हो पाए। वहीं पैरी के साथ खेलने वाले अन्य खिलाड़ी भी अभी क्रिकेट खल रहे हैं। अंडर-19 में बेहतर प्रदर्शन करने के बाद अगर पैरी लगातार अच्छा खेलते तो शायद आज वो भी एक नामी क्रिकेटर हो सकते थे।

READ  Is This One Middle Finger Worth $100,000?