ये हैं दुनिया की सबसे अज़ीब औरतें, किसी को जेनेटिक प्रॉब्लम है तो कोई मर्जी से

अलग दिखने के लिए लोग क्या-क्या करते हैं. ऐसे कई लोग हैं जिन्होंने हटके कुछ किया हो और लुक चेंज कर लिया हो. जैसे बॉलीवुड स्टार अनुष्का शर्मा को ले लीजिए. जिन्होंने खूबसूरत दिखने के लिए लिप सर्जरी कराई थी. लेकिन कुछ ऐसी महिलाएं भी हैं जिन्हें अजीब दिखने का शौक था तो किसी को जेनेटिक प्रॉब्लम है. जिसके चलते वो अलग दिखने के लिए चर्चा में रहती हैं, आइए देखते हैं कौन हैं ये….

कोनिता वूरस्ट    


इन्हें ‘दाढ़ी वाली महिला’ भी कहा जाता है. कोनिता वूरस्ट एक आदमी है उसका नाम टॉम नेविर्थ है उनका जन्म 6 नवंबर 1988 को हुआ था. लेकिन वो बचपन से ही महिलाओं की तरह रहते थे. दुनिया के सबसे बड़े सॉन्ग कॉन्टेस्ट यूरोविजन में पहुंचे लगा जैसे कोई लड़की पहुंची है. लेकिन खास बात ये थी कि उनके चेहरे पर दाढ़ी थी. उनकी आवाज ने लोगों का मन जीता और 2014 यूरोविजन का खिताब उन्हें मिला. बचपन में उनको काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा. लेकिन अब वो लोग उनका सर्मथन करते हैं. वह एक ट्रांसस्टाइटिव हैं- एक व्यक्ति जो विपरीत सेक्स के प्रतिनिधि की तरह व्यवहार करता है.

ज्योति आमगे


नागपुर की रहने वाली 25 वर्षीय ज्योति आमगे की छोटी काया ही अब इनकी पहचान है. ज्योति 61.95 सेंटीमीटर की है. यानी करीब 24.7 इंच. ज्योति हॉलीवुड में फिल्मों में नाम कमाना चाहती हैं. वह हॉलीवुड फिल्म लेग जिंडो में काम कर चुकी हैं. इसके अलावा वह अमेरिकन हॉरर स्टोरी में दिखाई दी थीं. 2009 से लगातार ज्योति गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड्स में अपनी छोटी काया के लिए नाम दर्ज करा रही हैं.

READ  क्रिस गेल ने 14 छक्के जड़कर बनाया विश्व रिकॉर्ड, जड़ दिए 126 रन, T-20 में 8०० छक्के

मैंडी सैलर्स


शरीर के हिसाब से हाथ और पैरों का विकास होता है. लेकिन 39 वर्षीय महिला का शरीर का विकास तो रुक गया, लेकिन उनके पैर बढ़ते गए. उनको PIK3CA जीन म्यूटशन नामक बीमारी से पीड़ित हैं. उनका 133 किलो वजन है. जिसमें से 95 किलो तो सिर्फ उनके पैरों का है. अपने पैरों की वजह से वो काफी चर्चा में रहती हैं.

मारिया क्रिस्टर्ना


इस महिला के चेहरे को देखकर कोई भी डर जाएगा. क्योंकि इस महिला ने चेहरे पर पियर्सिंग और कई टैटू बनवाए हैं. 36 वर्षीय मारिया मैस्किको की रहने वाली है. उन्हें लेडी ड्रैगन भी कहा जाता है. वो घरेलू हिंसा की शिकार हुई थीं. जिसके बाद उन्होंने ये कदम उठाया. अब वो खुद को स्वतंत्र महसूस करती हैं. पेशे से मारिया वकील हैं और जो महिलाएं घरेलू हिंसा की शिकार हुई हैं उनकी मदद करती हैं.

लिजी विलास्क्वीज


लिजी जब 17 साल की थीं तो उन्हें ‘मोस्ट अग्लिएस्ट वूमेन खिताब’ दिया गया था. जिसके बाद लिजी ने यूट्यूब पर एक वीडियो बनाया जिसके 54 मिलियन्स व्यूज थे. जिसके बाद वो चर्चा में आ गई थीं. वो फिलहाल एक मोटिवेशनल स्पीकर हैं. बता दें, जब लिजी पैदा हुई थीं तो उनका वजन एक किलो से भी कम था. डॉक्टर्स ने कह दिया था कि वो ठीक से चल या बोल नहीं पाएंगी. क्योंकि उन्हें प्रोजिटॉयड सिंड्रोम है.