भारत की मानुषी छिल्लर बनीं मिस वर्ल्ड

भारत की सुंदरियों ने दुनिया में एक बार फिर अपनी खूबसूरती का लोहा मनवा लिया है। चीन के सनाया में आयोजित की गई मिस वर्ल्डप्रतियोगिता में भारत की मिस इंडिया मानुषी छिल्लर को मिस वर्ल्ड 2017 घोषित किया गया। इस प्रतियोगिता में दुनियाभर की 118 सुंदरियों ने हिस्सा लिया था जिसमें मानुषी ने सभी को पीछे छोड़ते हुए मिस वर्ल्ड का खिताब जीता। मिस वर्ल्ड मानुषी हरियाणा के सोनीपत के शहर की रहने वाली हैं।

इस प्रतियोगिता में दूसरे नंबर पर मिस मेक्सिको रहीं जबकि तीसरे नंबर पर मिस इंग्लैंड रहीं है। मिस इंडिया मानुषी छिल्लर से फाइनल राउंड में जूरी ने सवाल पूछा था कि किस प्रफेशन में सबसे ज्यादा सैलरी मिलनी चाहिए और क्यों? इसके जवाब में मानुषी ने कहा, ‘मां को सबसे ज्यादा सम्मान मिलना चाहिए। इसके लिए उन्हें कैश में सैलरी नहीं बल्कि सम्मान और प्यार मिलना चाहिए।’

भारत के लिए साल 1966 में पहली बार रीता फारिया ने मिस वर्ल्ड खिताब जीता था। इसके बाद साल 1994 में एेश्वर्या राय, 1997 में डायना हेडन, 1999 में युक्ता मुखी और साल 2000 में प्रियंका चोपड़ा ने यह खिताब अपने नाम किया। अब 17 साल बाद मानुषी छिल्लर मिस वर्ल्ड 2017 बनी हैं। मानुषी के पिता मित्रबसु पेशे से डॉक्टर हैं जो फिलहाल दिल्ली के इनमास इंस्टिट्यूट में असिस्टेंट डायरेक्टर हैं। उनकी मां माता नीलम इब्मास कॉलेज में बायोकैमिस्ट्री की प्रोफेसर हैं। मानुषी छिल्लर का जन्म 14 मई 1997 को हुआ था। 25 जून 2017 को 54वें फेमिना मिस इंडिया वर्ल्ड 2017 के ताज से नवाजा गया था। छिल्लर मेडिकल की छात्रा हैं। वो 1966 में पहली बार मिस वर्ल्ड का खिलातब जीतने वाली रीता फारिया को अपना आदर्श मानती हैं।

READ  खाने से पसंद आकर टिप में दी 1000 पाउंड (82000) की बड़ी रकम

Related Post