पद्मावती विवाद: कुमार विश्‍वास बोले- हमारा कुत्‍ता कुत्‍ता, तुम्‍हारा कुत्‍ता टॉमी?

संजय लीला भंसाली की फिल्‍म ‘पद्मावती‘ पर जारी विवाद थमता नहीं दिख रहा। जिस तरह फिल्‍म के निर्माताओं ने कुछ संपादकों के लिए फिल्‍म की विशेष स्‍क्रीनिंग रखवाई, और उन संपादकों ने फिल्‍म देखकर अपनी राय सार्वजनिक की, उससे सेंसर बोर्ड खफा है। सीबीएफसी ने फिल्म के आवेदन पत्र को कथित तौर पर यह कहकर लौटा दिया था कि यह अधूरा है।

सिने जगत की कई हस्तियों ने ‘पद्मावती’ को लेकर हो रहे विरोध को गलत बताया है। इस पूरे विवाद में आम आदमी पार्टी के नेता व कवि डॉ कुमार विश्‍वास भी शामिल हो गए हैं। विश्‍वास ने शनिवार (18 नवंबर) को बिना किसी का नाम लिये ट्वीट किया, ”वाणी की स्वतंत्रता अपेक्षित है किंतु वह एकपक्षीय नहीं होती.आपके लिए चुभते स्वर तो चुप करा दिए जाएँ और दूसरों की भावनाओं के विपरीत किंतु आपकी योजना-वैचारिकी के अनुकूल स्वर निर्बाध गूँजे? वाह, हमारा कुत्ता, कुत्ता तुम्हारा कुत्ता टॉमी?”

दिग्गज अभिनेत्री शबाना आजमी ने दीपिका पादुकोण और भंसाली को मिल रही धमकियों के विरोध में भारतीय फिल्म उद्योग से गोवा में होने वाले 48वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) के बहिष्कार का आग्रह किया है।

शबाना ने ट्वीट कर कहा, “पूरी फिल्म इंडस्ट्री को दीपिका पादुकोण, संजय लीला भंसाली और ‘पद्मावती’ को लेकर मिल रही धमकियों के विरोध में आईएफएफआई का बहिष्कार करना चाहिए।” शबाना ने ट्वीट कर कहा, “सीबीएफसी को भेजे गए ‘पद्मावती‘ के आवेदन को अधूरा होने की वजह से लौटा दिया गया है! क्या सचमुच? या चुनावी लाभ के लिए आग भड़काए रखने के लिए?” शबाना ने कहा, “सत्ता में बैठी सरकार के तहत सबकी दुकान चल रही है। फिल्म इंडस्ट्री को ‘पद्मावती’ के साथ एकजुट होकर खड़े होना चाहिए।”

READ  Emergency 1975- अरुण जेटली ने हिटलर से की इंदिरा गांधी की तुलना

सोशल मीडिया पर मौजूद लोग विश्‍वास के इस ट्वीट का संदर्भ समझ नहीं पाए, पर अधिकतर ने यही अंदाजा लगाया कि उन्‍होंने ‘पद्मावती’ पर अपनी राय रखी है। जब करणी सेना के लोगों ने भंसाली से फिल्‍म के सेट पर मारपीट की थी, तब कुमार विश्‍वास ने एक वीडियो जारी किया था जिसमें वह ‘रानी पद्मिनी की महानता’ का बखान करते दिखे थे। विश्‍वास ने रविवार को वह वीडियो फिर से शेयर किया।

Related Post