राजकुमारी दिया ने ‘पद्मावती’ का किया विरोध-रानी पद्मावती की स्टोरी को गलत तरीके से पेश नहीं करना चाहिए

# movie padmavati #sanjay leela bhansali # deepika # ranveer Singh # shahid kapoor

जयपुर। संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ का विरोध दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा हैं। एक के बाद एक विरोध सामने आ रहे हैं। दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर स्टारर इस फिल्म के विरोध में बधुवार को सिटी पैलेस में प्रेस कॉन्फ्रेंस में जयपुर की राजकुमारी दिया कुमारी ने बयान दिया हैं। राजकुमारी ने कहा किसी भी फिल्म में ऐतिहासिक तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर समाज की भावनाओं को ठेस नहीं पहुंचाना चाहिए।

उन्होनें कहा की पद्मावती के निर्देशक संजय लीला भंसाली को चित्तौड़ की रानी पद्मावती की स्टोरी को गलत तरीके से पेश नहीं करना चाहिए। उन्हें इस फिल्म में दर्शाया गये तथ्यों का सत्यापन इतिहासविदों के फोरम करवाने के बाद ही फिल्म को रिलीज करना चाहिए।

राजकुमारी ने कहा कि राजपूत समुदाय द्वारा राजस्थान के शौर्यपूर्ण इतिहास और विदेशी आक्रांताओं के विरुद्ध युद्ध में हुए अपने लोगों के बलिदान के साथ किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ की अनुमति नहीं दी जाएगी। अगर यह फिल्म इतिहास के प्रामाणिक तथ्यों को प्रदर्शित नहीं करती है तो इसे रिलीज नहीं होने दिया जाएगा। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान महारानी पद्मिनी देवी और करणी सेना के पदाधिकारी मौजूद रहें।

आपको बता दें की राजपूत समाज का प्रतिनिधित्व करने वाली संस्था श्री राजपूत सभा ने फिल्म पद्मावती के प्रदर्शन पर पूरी तरह रोक लगाने की मांग करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को एक ज्ञापन भेजा है। सभा ने कहा कि देश के नैतिक मूल्यों को बचाये रखने और इतिहास की रक्षा के लिये जरुरी है कि पूरे देश में फिल्म को 12 नवम्बर तक प्रदर्शित नहीं किया जाए।

READ  पद्मावती: अरनब और रजत शर्मा समेत कुछ पत्रकारों ने देखी फिल्‍म, जानिए क्‍या रहा रिएक्‍शन

श्री राजपूत सभा के अध्यक्ष गिरिराज लोटवाडा ने कहा कि वे संजय लीला भंसाली के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवाना चाहते है, क्योंकि वह महान विभूतियों को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज किया जाना चाहिए। बता दें की यह फिल्म 1 दिसंबर को रिलीज़ होगी।

Related Post