अमेरिका की सुरक्षा एजेंसी FBI से जुड़ी 10 रोचक बातें जो सबको चकित करती है !

फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (एफबीआई) संयुक्त राज्य अमेरिका के डिपार्टमेंट ऑफ जस्टिस की एक एजेंसी है जो एक संघीय आपराधिक जाँच निकाय और एक आंतरिक खुफिया एजेंसी दोनों के रूप में कार्य करती है. एफबीआई के पास संघीय अपराध की 200 से अधिक श्रेणियों के उल्लंघन की जांच का अधिकार है. एफबीआई का मुख्यालय जे. एडगर हूवर बिल्डिंग वॉशिंगटन, डी.सी. में स्थित है. संपूर्ण संयुक्त राज्य अमेरिका के प्रमुख शहरों में इसके छप्पन क्षेत्रीय कार्यालय स्थित हैं, साथ ही देश भर के सभी छोटे शहरों और नगरों में इसकी 400 से अधिक स्थानिक एजेंसियां मौजूद हैं. “लीगल अटैचीज” कहे जाने वाले 50 से अधिक अंतरराष्ट्रीय कार्यालय दुनिया भर के अमेरिकी दूतावासों में मौजूद हैं. तो आइए जानते हैं एफबीआई से जुड़ी बातें…

1. साल 2010 में एफबीआई का कुल बजट लगभग 7.9 बिलियन डॉलर था जिसमें 618 मिलियन डॉलर की राशि आतंकवाद का मुकाबला करने, कंप्यूटर घुसपैठों, निगरानी, सामूहिक विनाश के हथियारों, सफ़ेदपोश अपराध और प्रशिक्षण कार्यक्रमों के लिए शामिल थी.
2. फेडरल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टीगेशन जिसे FBI भी कहा जाता है, संयुक्त राज्य अमेरिका के न्याय विभाग (डिपार्टमेंट ऑफ जस्टिस) का प्राथमिक अंग है. ये संस्था क्रिमिनल इंवेस्टीगेटिव बॉडी और घरेलू खुफिया एजेंसी, दोनों के ही काम करती है.
3. एफबीआई की स्थापना 26 जुलाई 1908 में तत्कालीन अमरीकी राष्ट्रपति थियोडोर रूजवेल्ट के कार्यकाल में की गई थी. तब इसका नाम ब्यूरो ऑफ इंवेस्टीगेशन हुआ करता था. 1932 में इसका नाम बदलकर यूनाइटेड स्टेट्स ब्यूरो ऑफ इंवेस्टीगेशन कर दिया गया और फिर साल 1935 में इसका नाम फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन यानी FBI रखा गया.
4. संगठित अपराध के जबाब में 25 अगस्त 1953 को टॉप हूडलम नामक एक प्रोग्राम बनाया गया. इसके तहत सभी क्षेत्रीय कार्यालयों से अपने क्षेत्रों के गुंडों की जानकारी एकत्रित करने के लिए और इनकी सूचना धूर्तों की केंद्रीकृत खुफिया जानकारी के संग्रहण के लिए नियमित रूप से वाशिंगटन भेजने को कहा गया.
5. साल 1993 और 1996 के बीच एफबीआई ने न्यूयॉर्क में 1993 में वर्ल्ड ट्रेड सेंटर की पहली बमबारी, 1995 में न्यूयॉर्क और ओकलाहोमा सिटी की बमबारी और 1996 में उनाबॉम्बर की गिरफ्तारी में अपनी आतंकवाद-निरोधक भूमिका में बढावा किया.
6. साल 1998 में FBI ने अपना तकनीकी विभाग विकसित किया. कंप्यूटर वायरसों, वर्म्स और अन्य मैलिसियस प्रोग्राम, जो अमेरिका में कहर बरपा सकते थे, इनसे निबटने के लिए कंप्यूटर इन्वेस्टिगेशंस एंड इंफ्रास्ट्रक्चर थ्रेट एसेसमेंट सेंटर (CITAC) और नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोटेक्शन सेंटर (NIPC) का गठन किया गया था.
7. 31 दिसम्बर 2009 तक एफबीआई के पास कुल मिलाकर 33,652 कर्मचारी थे. इसमें 13,412 विशेष एजेंट और 20,420 सहयोगी प्रोफेशनल जैसे कि खुफिया विश्लेषक, भाषा विशेषज्ञ, वैज्ञानिक, सूचना प्रौद्योगिकी विशेषज्ञ और अन्य पेशेवर व्यक्ति शामिल थे.

8. द ऑफिसर डाउन मेमोरियल पेज, 1925 से लेकर 2009 तक ड्यूटी के दौरान मारे गए 57 एफबीआई अधिकारियों की जीवनी प्रस्तुत करता है.
9. एफबीआई अकादमी में सफलतापूर्वक अपना प्रशिक्षण पूरा कर लेने के बाद एफबीआई के विशेष एजेंट के लिए .40 एसएंडडब्ल्यू कैलिबर में एक ग्लौक मॉडल 22 पिस्टल जारी किया जाता है. .40 एसएंडडब्ल्यू कैलिबर में एक ग्लौक मॉडल 27 एक सहायक हथियार के रूप में अधिकृत है.
10. विशेष एजेंट .45 एसीपी कैलिबर में ग्लौक मॉडल 21 को खरीदने और ड्यूटी के समय इसे अपने साथ रखने के लिए अधिकृत हैं. एफबीआई एचआरटी (होस्टेज रेस्क्यू टीम) के विशेष एजेंटों को स्प्रिंगफील्ड मॉडल 1911A1 .45 एसीपी पिस्टल जारी किया जाता है.

READ  Google Doodle Ustad Bismillah Khan: मशहूर शहनाई वादक उस्ताद बिस्मिल्लाह खान की आज(21 मार्च) को 102 वीं जयंती है