गौरव अरोड़ा से बना गौरी…कभी लड़कियां मरती थीं उस पर

टीवी रिएलिटी शो एमटीवी ‘स्प्लिट्सविला’ सीजन-8 के कंटेस्टेंट गौरव अरोड़ा अब गौरी अरोड़ा बन चुके हैं। यह रूप उन्होंने सेक्स चेंज सर्जरी के बाद पाया है। जल्द ही वह ‘इंडियाज नेक्‍स्‍ट टॉप मॉडल’ में दिखाई देंगे। शो में वह कंटेस्टेंट के तौर पर नजर आएंगे। बता दें, इसी शो के साथ गौरव उर्फ गौरी फिर से टीवी की दुनिया में कमबैक कर रहे हैं। शो में वह बिकिनी पहनकर रैंप पर कैटवॉक करते भी नजर आएंगे।

मलाइका, मिलिंद, डब्‍बू करेंगे जज

गौरी को ‘इंडियाज नेक्सट टॉप मॉडल’ में कंटेस्टेंट के तौर पर शामिल किया गया है। इस शो को डब्बू रतनानी, मलाइका अरोड़ा खान और मिलिंद सोमन जज करेंगे।

लाइफ में किया काफी स्ट्रगल

खबरों के मुताबिक, अपने सेक्स चेंज को लेकर गौरी कहती हैं, ‘मैं बहुत खूबसूरत महसूस कर रही हूं। अपने सफर में मैंने काफी स्ट्रगल किया है, उम्मीद है इससे बाकी लोगों को भी खुलकर सामने आने की हिम्मत मिलेगी।’

‘लोग कहते थे छक्का’

वह आगे कहती हैं, ‘बचपन से मैं जानती थी कि मैं एक महिला हूं। मैं हमेशा आदमियों की तरफ अट्रेक्शन फील करती थी। लेकिन हमेशा मेरा यही डर बना हुआ था कि समाज मुझे इसके लिए स्वीकार नहीं करेगा। मैं फुटबॉल खेलती थी, मैं गुड़िया से भी खेला करती थी। लोग मुझे ‘छक्का’ कहा करते थे।’

 बिकिनी में देना था ऑडिशन

एक सामचार पत्र से बातचीत में गौरी ने कहा कि इस रिएलिटी शो के दौरान उन्हें बिकिनी में ऑडिशन देना था। उन्हें इस बात की भी चिंता थी कि बिकिनी में उन्हें देखकर परिवार का क्या रिएक्शन होगा। साथ ही दूसरी चिंता ये भी थी कि कहीं लोग ऐसा न समझें कि उन्होंने बॉडी दिखाने के लिए ही सेक्स चेंज करवाया है।

READ  जकरबर्ग और उनकी पत्नी को Facebook पर नहीं किया जा सकता ब्लॉक, जानिये क्या है वजह ?

कभी लड़कियां मरती थीं उन पर

बता दें, जब गौरव स्प्लिटविला में थे, तब लड़कियां उन पर मरती थीं। मॉडलिंग की दुनिया में वह काफी अच्छा काम कर रहे थे। किसी ने सोचा भी नहीं होगा कि वो कभी सेक्स चेंज करवाएंगे।

इसलिए करवाया सेक्स चेंज

गौरव ने कहा कि उन्हें एक औरत जैसा महसूस होता रहा है। उनके लिए सेक्स चेंज करवाने का फैसला लेना बहुत जरूरी था। अब जब कई महीनों तक चली सर्जरी के बाद उनका सेक्स चेंज हो गया है, तो वो गौरव अरोड़ा से गौरी अरोड़ा बनकर काफी खुश हैं। हालांकि इस सर्जरी को करवाने के लिए उन्हें काफी हिम्मत जुटानी पड़ी।

courtesy www.patrika.com