एडॉल्फ हिटलर की आत्मकथा “मीन कैम्फ” की होगी नीलामी, चोंक जायेंगे कीमत जानकर !

जर्मनी के तानाशाह एडॉल्फ हिटलर की आत्मकथा एक बार फिर सुर्ख़ियों में है।

उनकी आत्मकथा ‘मीन कैम्फ’ यानी ‘मेरा संघर्ष’ की ऑरिजिनल प्रति नीलाम होने जा रही है। खास बात यह है कि इसे स्वयं हिटलर ने लिखा है और इस पर उनके द्वारा किया गया हस्ताक्षर भी मौजूद है।

इसके 20 हजार डॉलर में बिकने की उम्मीद जताई जा रही है।

यह आत्मकथा स्वयं हिटलर ने लिखी थी। इस पर उनके हस्ताक्षर भी हैं। इस आत्मकथा को ‘एलेक्जेंडर हिस्टोरिकल ऑक्शं’ नामक संस्था के द्वारा नीलाम किया जा रहा है। नीलामी संस्था की मानें तो इस आत्मकथा पर हस्ताक्षर के दिन हिटलर 14 सितंबर, 1930 को तय राष्ट्रीय चुनाव से पहले नेशनल सोशलिस्ट जर्मन वर्कर्स पार्टी के प्रचार के लिए कोलोन में भाषण दे रहे थे। नीलामी संस्था के अनुसार, हिटलर की आत्मकथा के हस्ताक्षरित प्रति प्राप्त करना दुर्लभ काम है। हस्ताक्षर के साथ टिप्पणी वाली प्रति और भी रेयर है।

क्यों महत्वपर्ण है मीन कैम्फ?
“जर्मनी के तानाशाह हिटलर की आत्मकथा मीन कैम्फ में उनकी राजनीतिक विचारधारा और जर्मनी के बारे में उसकी योजनाओं का वर्णन है। यह पुस्तक दो भागों में छपी। पहला भाग सन् १९२५ में और दूसरा भाग सन् १९२६ में छपा। इस पुस्तक को हिटलर के सहायक रुडोल्फ़ हेस ने संपादित किया था। इसके पहले खंड में 12 अध्याय हैं, वहीं दूसरे खंड में 15 अध्याय।”

फिलहाल जिस पुस्तक तो नीलामी के लिए रखा जा रहा है उसके फ्रंट फ्लाईलीफ़ में हिटल के द्वारा लिखा गया है कि ‘युद्ध में अच्छे लोग ही विजयी होते हैं’। इसके बाद हस्ताक्षर के साथ दिनांक भी लिखा है। नीलामी प्रति में 18 अगस्त, 1930 का दिनांक अंकित है।

READ  आज से हुए इन 5 बदलावों के बारे में ध्यान नहीं रखा, तो नुकसान उठाना पड़ सकता है.

‘मीन कैम्फ’ की नीलामी ऑनलाइन होगी। इसकी शुरुआत 13 सितंबर से होनी है। एक अनुमान के अनुसार अमेरिका में यह पुस्तक 20 हजार डॉलर में बिक सकती है।