‘ब्लू व्हेल’ गेम बनाने वाला 22 साल का यह लड़का, दूसरों को मानता है धरती पर बोझ

नेट पर सक्रिय रहने वाले लोग इन दिनों चर्चा में चल रहे सुसाइड गेम ‘ब्लू व्हेल’ के नाम से जरूर परिचित हो गए होंगे। बीते कुछ दिनों से एक यह चैलेंज बहुत चर्चा में है। इसके कारण कई लोग अपनी जान से हाथ धो बैठे हैं। इस खतरनाक गेम को बनाने वाला 22 साल का रूसी लड़का फिलिप बुडेकिन फिलहाल जेल में है।

अपने जुर्म को कुबूल करते हुए उसने कहा कि मैंने इस खेल को बनाया है। आप परेशान मत हो, आपको सबकुछ समझ में आ जाएगा। उसने कहा कि इस दुनिया में कुछ लोग बायोलॉजिकल वेस्ट (कचरा) हैं। वे लोग, जिनकी समाज में कोई कीमत नहीं है। जो समाज को सिर्फ नुकसान पहुंचाते हैं या पहुंचाएंगे। मैं समाज से ऐसे लोगों से साफ कर रहा था।

इस गुनाह के लिए सर्बिया के कोर्ट ने फिलिप को तीन साल जेल की सजा सुनाई है। ब्लू व्हेल गेम 50 दिन तक चलने वाला एक चैलेंज है। इस गेम में एक एडमिन होता है, जो स्काइप के जरिये खेलने वाले को बताता है कि उसे क्या करना है। इसे खेलने वाले को हर दिन एक कोड नंबर दिया जाता है, जैसे पहले दिन हाथ पर ब्लेड से F57 लिखकर इसकी फोटो इंटरनेट पर अपलोड की जाती है।

हर दिन मिलने वाले कोड की एक खासियत होती है कि ये सिर्फ सुबह चार बजे ही ओपन होता है। कोड के जरिये मिलने वाले टास्क के पूरे होने पर हाथ में एक कट लगाकर उसकी फोटो अपलोड करने को कहा जाता है। इस गेम में विनर बनने वाले को आखिरी टास्क पूरा करते हुए अपनी जान देनी होती है।

READ  आधार कार्ड के जरिये 15 लाख का लोन, कैसे पाए जाने यहां (Get a loan of 15 lakh, through Aadhar card)

दुनियाभर में इस गेम के कारण अभी तक 250 से भी ज्यादा लोग अपनी जान दे चुके हैं। चैलेंज लेने वाला कभी भी गेम को बीच में नहीं छोड़ पाता है। अगर वो गेम को बीच में छोड़ने की कोशिश करे तो एडमिन उसे धमकाने लगता है, यहां तक कि वो खेलने वाले के माता-पिता को भी जान से मारने की धमकी देता है।