गर्मी हो या सर्दी हल्दी वाले दूध पीना किसी संजीवनी बूटी से कम नही है..

हल्दी को गर्मियों और सर्दियों हर मौसम में खाया जाता है. हल्दी में करक्यूमिन नामक तत्व पाया जाता हैं, और ये अपने आप में एक उच्च श्रेणी का एंटी ऑक्सीडेंट होता हैं। अगर दूध में आधा टी स्पून हल्दी डालकर पिया जाए तो छोटी मोटी  बीमारियो के अतिरिक्त अन्य बड़ी बड़ी बीमारिया भी पास नहीं फटकती। अगर दूध नहीं पी सकें तो इसको गर्म पानी में डालकर भी पिया जा सकता है.

आइये जाने हल्दी वाले दूध पीने के फायदे।

Benefit of turmeric Milk.

हल्दी वाला दूध त्रिदोषनाषक, संधिवात, आर्थराइटिस, गठिया, दमा, फेफड़ो में कफ, अनिद्रा, हड्डियों हेतु “हल्दी वाला दूध “अमृत समान हैं।

हल्दी वाला दूध बनाने की विधि :

रात को सोते समय गर्म दूध में एक चम्मच घी और आधा टी स्पून हल्दी डालें (देशी गाय का दूध और देशी गाय का घी ही उत्तम हैं, अगर ये ना मिले तो फिर भैंस का ही लीजिये ) फिर चम्मच से खूब मिलाकर कर खड़े खड़े पियें। दूध जितना गर्म पी सके, खड़े हो कर ही पीना चाहिए। और पानी हमेशा बैठ कर ही पीना चाहिए।
हल्दी वाला दूध पीने के लाभ :

1. त्रिदोष शांत

इससे त्रिदोष शांत होते है। यानी वात पित्त कफ तीनो ही सही रहते हैं।

2. संधिवात

संधिवात यानी अर्थ्राईटिस गठिया, दमा, में बहुत लाभकारी है। निरंतर पीने से उठने वाला जोड़ो का दर्द शांत होता हैं और सूजन भी ख़त्म होती हैं।

3. सर्दी खांसी ज्वर

किसी भी प्रकार के ज्वर की स्थिति में , सर्दी खांसी में लाभकारी है।

4. दमा, ब्रोंकाइटिस, फेफड़ों में कफ और साइनस

हल्दी एंटी माइक्रोबियल है इसलिए इसे गर्म दूध के साथ लेने से दमा, ब्रोंकाइटिस, फेफड़ों में कफ और साइनस जैसी समस्याओं में आराम होता है. यह बैक्टीरियल और वायरल संक्रमणों से लड़ने में मदद करती है।

5. वजन घटाने में

वजन घटाने में फायदेमंद गर्म दूध के साथ हल्दी के सेवन से शरीर में जमा चर्बी घटती है. इसमें मौजूद कैल्शियम और मिनिरल्स सेहतमंद तरीके से वजन घटाने में सहायक हैं।

6. अच्छी नींद के लिए

अच्छी नींद के लिए हल्दी में अमीनो एसिड है इसलिए दूध के साथ इसके सेवन के बाद नींद गहरी आती है.अनिद्रा की दिक्कत हो तो सोने से आधे घंटे पहले गर्म दूध के साथ हल्दी का सेवन करें।

7. दर्द से आराम

दर्द से आराम हल्दी वाले दूध के सेवन से गठिया से लेकर कान दर्द जैसी कई समस्याओं में आराम मिलता है. इससे शरीर का रक्त संचार बढ़ जाता है जिससे दर्द में तेजी से आराम होता है।

8. खून और लिवर की सफाई

खून और लिवर की सफाई आयुर्वेद में हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल शोधन क्रिया में किया जाता है। यह खून से टॉक्सिन्स दूर करता है और लिवर को साफ करता है. पेट से जुड़ी समस्याओं में आराम के लिए इसका सेवन फायदेमंद है।

9. पीरियड्स की समस्या

पीरियड्स में आराम हल्दी वाले दूध के सेवन से पीरियड्स में पड़ने वाले क्रैंप्स से बचाव होता है और यह मांसपेशियों के दर्द से छुटकारा दिलाता है।

10. हड्डियों के लिए

मजबूत हड्डियां दूध में कैल्शियम अच्छी मात्रा में होता है और हल्दी में एंटीऑक्सीडेट्स भरपूर होते हैं।

11. कैंसर के लिए।

READ  स्पर्म के बारे में ऐसे रोचक तथ्य जो आपका ज्ञानकोष बढ़ाते हैं |

हल्दी में पाया जाने वाला पदार्थ करक्यूमिन एंटी कैंसर होता हैं, इसके नित्य सेवन से कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकने में बहुत मदद मिलती हैं।

सेब के सिरके Apple Cider Vinegar के अदभुत उपयोग। ये पोस्ट पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे। 

Source onlyayurved.com